सोलर पंपों की स्थापना से पहुँच विहीन दुर्गम क्षेत्रो मिल रही सिंचाई सुविधा

0
21


गौरेला पेंड्रा मरवाही : नवगठित गौरेला पेण्ड्रा मरवाही जिले के ऐसे पहुंच विहीन दुर्गम क्षेत्रों में जहां बिजली कनेक्शन नहीं पहुंच पा रहा है, वहां सोलर पावर पंपों की स्थापना से सिंचाई सुविधा मिल रही है। छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) द्वारा सौर सुजला योजना के तहत सोलर पंपो की स्थापना की जा रही है। अब तक जिले में 800 से ज्यादा सोलर पंपों की स्थापना की जा चुकी है। इनमें सुराजी गांव योजना के तहत गौठानों, चारागाहों में स्थापित सोलर पंप भी शामिल है। इसके अलावा एकीकृति आदिवासी विकास परियोजना द्वारा सोलर पंप के लिए जारी किये गये हितग्राही अंशदान राशि से क्रेडा द्वारा सौर सुजला योजना के तहत 14 आदिवासी परिवारों के यहां भी सोलर पंपों की स्थापना की जा चुकी है।

              जिले के किसान कृषि कार्याे के लिए विद्युत की कमी होने के कारण कृषि योग्य भूमि होने के बावजूद भी अपने पूर्ण दक्षता से कृषि करने में असमर्थ थे, अब सौर सुजला योजना से सोलर पंप लगने से उन्हे सिंचाई सुविधा मिल रही है। इससे उनकी आमदनी एवं आजीविका में भी सुधार हुआ है। सिंचाई के लिए वर्षा जल पर निर्भरता के कारण वे सिर्फ धान की ही खेती कर पाते थे लेकिन खेतों में सोलर पंप लग जाने से अब वे धान के साथ-साथ सब्जी, भाजी, सरसों, गेंहूँ आदि रबी फसलों की भी खेती कर रहे है जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में निरंतर सुधार देखने को मिल रहा है।






Read this news in English visit IndiaFastestNews.in