स्मार्ट रोड की तर्ज पर विकसित किया जायेगा सिम्स मार्ग: कलेक्टर  Public Live

0
16

स्मार्ट रोड की तर्ज पर विकसित किया जायेगा सिम्स मार्ग: कलेक्टर 

PublicLive.co.in

बिलासपुर। सिम्स अस्पताल परिसर को व्यवस्थित करने के क्रम में सिम्स चौक से अरपा रिवर व्यू तक सड़क मार्ग को स्मार्ट रोड की तरह विकसित किया जायेगा। कलेक्टर अवनीश शरण ने आज अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद इस आशय के निर्देश दिए। उन्होंने नगर पालिक निगम को डीएमएफ मद से स्वीकृति के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा है। गौरतलब है कि पार्किंग को अन्यत्र स्थानांतरित करने एवं अवैध अतिक्रमण हटाने के बाद सिम्स के सामने की सड़क काफी चौड़ी हो गई है। जिसके कारण बिजली के खम्भे, तार, ट्रांसफार्मर, केबल सड़क के बीचों-बीच हो गये हैं। स्मार्ट रोड के अंतर्गत तमाम केबल, तार आदि अन्डरग्राउण्ड ले जाए जाएंगे। खम्भे आदि हटने के बाद मरीजों और लोगों को आने-जाने में काफी सुविधा होगी।

कलेक्टर ने आज फिर सिम्स अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल में मरीजों एवं उनके परिजनों की सुविधा के लिए बनाये जा रहे निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। अस्पताल में ओपीडी मरीजों के पहुंचने के लिए एक अलग गलियारा विकसित किया गया है। कलेक्टर ने मरीजों के पंजीयन कक्ष भी देखे। टोकन व्यवस्था सुचारू तरीके से चल रही है। उन्होंने कहा कि टोकन इश्यू होने के बाद मरीज अपनी बारी का इंतजार करें। अनावश्यक काउण्टर पर जाकर पूछताछ न करें ताकि सुविधाजनक तरीके से सिस्टम काम कर पाए। पंजीयन कक्ष से ऊपरी मंजिलों में ओपीडी डॉक्टरों तक पहुंच के लिए एक नये लिफ्ट स्थापित की जा रही है। कलेक्टर ने इस माह के अंत तक लिफ्ट तैयार कर सौंपने के निर्देश एजेन्सी को दिए। आवश्यकता के अनुसार और लिफ्ट स्वीकृत करने का भरोसा दिलाया। उन्होंने रेडक्रास की दवाई दुकान का भी निरीक्षण किया। मरीजों के परिजनों के भोजन बनाने के लिए तैयारी किये जा रहे शेड को जल्द तैयार करने के निर्देश दिए। अस्पताल के गार्डन सौंदर्यीकरण कार्य का भी जायजा लिया। नगर निगम आयुक्त अमित कुमार, अस्पताल अधीक्षक डॉ. एसके नायक सहित संबंधित अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

Previous articleप्रदेश में सहकारिता आंदोलन को और अधिक मजबूत बनाया जायेगा Public Live
Next articleकामों में रूचि नहीं लेने वाले ठेकेदार होंगे ब्लेक लिस्टेड : कलेक्टर Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।