हरदा हादसे के बाद जागी सरकार, इंदौर में पटाखे की पांच फैक्ट्री सील, जांच करने पहुंचे अधिकारी Public Live

0
19

हरदा हादसे के बाद जागी सरकार, इंदौर में पटाखे की पांच फैक्ट्री सील, जांच करने पहुंचे अधिकारी

PublicLive.co.in

इंदौर ।   हरदा में पटाखा फैक्ट्री में हुई भीषण आगजनी की दुर्घटना के बाद इंदौर जिले में कलेक्टर आशीष सिंह के निर्देशन में सुरक्षा संबंधी सभी उपाय सुनिश्चित कराए जा रहे हैं। आशीष सिंह ने इंदौर के सभी एसडीएम को निर्देश दिए हैं कि वे अपने क्षेत्र में पटाखा फैक्ट्रियों और गोदामों का निरीक्षण करें। निर्देश दिए गए हैं कि पटाखा फैक्ट्रियों और गोदामों में सुरक्षा संबंधी सभी उपाय सुनिश्चित होने चाहिए। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिए हैं कि इन पटाखा  फैक्ट्रियों और गोदामों की वैधानिकता भी सुनिश्चित होनी चाहिए।  इसी क्रम में इंदौर जिले के एसडीएम एवं तहसीलदारों द्वारा निरीक्षण की कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। आज राऊ क्षेत्र में एसडीएम राकेश परमार एवं उनके साथी अधिकारी तथा पुलिस प्रशासन ने अपने क्षेत्र का भ्रमण कर पटाखा फैक्ट्री एवं गोदाम का निरीक्षण किया। अधिकारियों द्वारा राऊ के बापू कृपा फायर वर्क्स का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में सुरक्षा मानकों की पूर्ति नहीं पाए जाने पर मौके पर ही फैक्ट्री को सील करने की कार्यवाही की गई। जिले के अन्य क्षेत्रों पर भी निरीक्षण की कार्यवाही की जा रही है।

महू क्षेत्र में चार पटाखा गोदामों को किया गया सील

एसडीएम महू विनोद राठौर द्वारा पुलिस अधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से महू क्षेत्र के विभिन्न पटाखा गोदामों की सघन जांच की गई। सब डिवीजन महू में पटाखा के गोडाउंस और उनकी दुकानों की जांच में सुरक्षा के सभी उपकरणों, पानी, रेती, वेंटिलेशन आदि व्यवस्था एवं लाइसेंस की शर्तों, क्षमता के अनुसार स्टॉक का मिलान आदि बिंदुओं पर जांच की गई। लगभग 15 लाइसेंस धारियों की जांच की गई। जिसमें 4 स्थानों के गोदामों को आगामी कार्यवाही तक सील किया गया है। जिन गोदामों को सील किया गया उनमें रवि फायर वर्क्स सुरेश फेरवानी अम्बाचंदन, फर्म श्याम सुंदर जसवानी अम्बाचंदन, लक्ष्मी फायर वर्क्स इंडस्ट्री प्रो नरेश बालचंदानी दतोदा, लक्ष्मी फायर वर्क्स प्रो. जमनादास बालचंदानी शामिल हैं। इन चारों फर्म्स के सभी लाइसेंस के गोडाउन को सील किया गया है। आगे भी सघन जांच होती रहेगी।

Previous articleइंदौर में अवैध मकानों और दुकानों को तोड़ा, 8 करोड़ की जमीन को कब्जे से छुड़ाया Public Live
Next articleचादर, बिस्तर और चाय का किया इंतजाम, रातभर सड़कों पर सो रहे MPPSC के छात्र Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।