होली के एक दिन पहले डबल मर्डर, कोयल नदी सेमरताड़ औऱ नावाटोली में हुई वारदात Public Live

0
14

होली के एक दिन पहले डबल मर्डर, कोयल नदी सेमरताड़ औऱ नावाटोली में हुई वारदात

PublicLive.co.in

डालटनगंज।होली से पहले पलामू में  डबल मर्डर से सनसनी फैल गयी  । एक युवक की हत्या चैनपुर थाना क्षेत्र के शाहपुर सेमरताड़ स्थित कोयल नदी किनारे हुई, जबकि दूसरे की मेदिनीनगर शहर थाना क्षेत्र के नावाटोली इलाके में मार डाला गया। दोनों की हत्या तेज धारदार हथियार से की गई है।डबल मर्डर से इलाके में सनसनी फैल गई है। सूचना मिलने के बाद पुलिस छानबीन में जुटी हुई है। इस घटना को दो गुटों की आपसी रंजीश से जोड़ कर देखा जा रहा है। मृतको की पहचान 20 वर्षीय राजेश कुमार पिता देवनंदन साव एवं सुजीत भुइयां उर्फ़ बौधा के रूप में हुई है।बताया जाता है कि राजेश और सुजीत कोयल नदी में शौच करने गए थे। इसी क्रम में दूसरे गुट के युवकों ने उनपर तेज धारदार हथियार से हमला कर दिया। राजेश के पिता देवनंदन ने बताया कि श्याम चौधरी, रामा चौधरी, कारू, मिथुन, नितेश और देव साव ने मिलकर हत्या की है। देवनंदन के अनुसार तेज धारदार हथियार से उसके बेटे को कोयल नदी में हत्या की गई, जबकि सुजीत को भगाने के क्रम में नावाटोली इलाके में खदेड़कर मार डाला गया।जानकारी के अनुसार इस वारदात को दो युवकों के गैंग में पूर्व से चले आ रहे विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है। कुछ महीने पहले इसी विवाद के कारण सेमाताड़ के श्यामा चौधरी पर जानलेवा हमला किया गया था। तेज धारदार हथियार से हमला करने के साथ-साथ फायरिंग भी की गई थी। हालांकि रांची में कुछ माह इलाज चलने के बाद श्याम चौधरी की जान बची थी।होली से एक दिन पहले खूनी होली खेले जाने से शाहपुर और सेमरटांड़ के इलाके में दहशत का माहौल है। होली जैसे पर्व पर सौहार्द का माहौल बिगड़ने से लोग परेशान हो गए हैं।

Previous articleरीगल कलश कैंपस में होलिका पूजन जन जागरूकता कार्यक्रम सम्पन्न Public Live
Next articleपाकिस्तानी सैन्य छावनी पर हमले की तैयारी में टीटीपी लड़ाके Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।