10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं कल से, तैयारी पूर्ण  Public Live

0
11

10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं कल से, तैयारी पूर्ण 

PublicLive.co.in

परीक्षा केंद्रों पर एक घंटा पहले पहुंचना अनिवार्य


 भोपाल । प्रदेश में कल (सोमवार) से माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं प्रारंभ होने जा रही है। परीक्षा का सुचारु संचालन के लिए सभी आवश्यक तैयारियों पूर्ण कर ली गई है। परीक्षार्थियों को निधार्रित समय से एक घंटा पहले एवं परीक्षा कक्ष में आधा घंटा पहले उपस्थित होना अनिवार्य है। माशिमं ने इस साल परीक्षा को लेकर कई बदलाव भी किए हैं। इसके अनुसार, सुबह आठ बजे केंद्र और 8.30 बजे तक कक्षा में पहुंचना होगा, ताकि परीक्षा केंद्र के अंदर प्रवेश से पहले जांच किया जा सके। परीक्षा का समय सुबह नौ बजे से है। 8.40 के बाद किसी भी परीक्षार्थी को कक्ष में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। साथ ही प्रश्न पत्र चार सेट में आएंगे। नकल रोकने और प्रश्नपत्रों को बहुप्रसारित होने से बचाने के लिए केंद्रों पर काफी सख्ती बरती जाएगी। परीक्षा केंद्र के बाहर एक लोहे की पेटी रखी जाएगी, जिसमें परीक्षार्थी स्वेच्छा से गाइड, पर्ची आदि डाल सकेंगे। प्रश्र पत्र चार सेट में आएंगे। अगल-बगल के विद्यार्थी को अल्टरनेट सेट दिया जाएगा। इसके साथ ही 10वीं और 12वीं के प्रश्न पत्रों को अलग-अलग रंग के लिफाफों में रखा जाएगा। 10वीं के लिए नीला और 12वीं के प्रश्न पत्रों के लिए गहरा हरा रंग रहेगा, ताकि आपस में बदल नहीं सके।इस बार परीक्षार्थी परीक्षा शुरू होने के दो घंटे बाद ही बाहर जा पाएंगे। अगर वे पहले जाना चाहेंगे तो बिना प्रश्न पत्र के ही बाहर जाना होगा। ऐसा इसलिए किया गया है, क्योंकि कई बार परीक्षार्थी प्रश्न पत्र के साथ जल्दी बाहर आकर उसे इंटरनेट मीडिया के माध्यम से बहुप्रसारित कर देते हैं, जिससे नकल होने की आशंका बढ़ जाती है। वोकेशनल और संस्कृत के पेपर के लिए 20 पेज की उत्तरपुस्तिका दी जाएगी, वहीं गणित के लिए यह 32 पेज की होगी। मंडल में एक कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। यहां पर हर जिले का प्रभारी बनाया जाएगा। सभी प्रभारी अपने-अपने जिले की निगरानी करेंगे। इस बार परीक्षा केंद्रों की किसी भी तरह की सूचना मंडल को जल्द मिलेगी। परीक्षार्थियों को इस बार ओएमआर सीट दी जाएगी। मप्र बोर्ड परीक्षा में यह पहली बार किया जा रहा है कि परीक्षार्थियों को सप्लीमेंट्री कापी नहीं दी जाएगी। परीक्षार्थियों को इस बार दो प्रकार की उत्तर पुस्तिकाएं दी जाएंगी। 

Previous articleएफपीआई ने जनवरी में ऋण बाजार में डाले 19,800 करोड़ Public Live
Next articleभारत के आर्थिक विकास के स्मारक बनाए हैं कांग्रेस ने : जयराम रमेश  Public Live
समाचार सेवाएं समाज की अहम भूमिका निभाती हैं, जानकारी का प्रसार करने में समर्थन करती हैं और समाज की आंखों और कानों का कार्य करती हैं। आज की तेज गति वाली दुनिया में ये समय पर, स्थानीय और वैश्विक घटनाओं के बारे में समय पर सटीक अपडेट्स के रूप में कार्य करती हैं। ये सेवाएं, चाहे वे पारंपरिक हों या डिजिटल, घटनाओं और जनजागरूकता के बीच का सेतु बनाती हैं। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स के आगमन के साथ, समाचार वितरण को तत्काल बनाए रखने का सुनहरा अवसर है, जिससे वास्तविक समय में बदला जा सकता है। हालांकि, गलत सूचना और पक्षपात जैसी चुनौतियां बनी हुई हैं, जो सत्यापनीय पत्रकारिता की महत्वपूर्णता को अधीन रखती हैं। सत्य के परकी रखने वाले रूप में, समाचार सेवाएं केवल घटनाओं की सूचना नहीं देतीं, बल्कि जानकारी की अखंडता को भी बनाए रखती हैं, एक जागरूक और लोकतांत्रिक समाज के लाभ में योगदान करती हैं।