CBI की छापेमारी पर बोलीं मायावती, ‘बीजेपी के हथकंडों से घबराए नहीं अखिलेश’

publiclive.co.in[Edited by Ranjeet]
लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की प्रमुख मायावती ने बालू खनन मामले में सीबीआई जांच की आंच समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव तक पहुंचने से पहले उनके बचाव में आ गई हैं. उन्होंने अखिलेश को फोन कर कहा कि बीजेपी के हथकंडों से घबराने की कोई जरूरत नहीं है, जनता भाजपा को करार जवाब देगी. बीएसपी अध्यक्ष ने इस मामले को बीजेपी की राजनीतिक विद्वेष में चुनावी स्वार्थ के तहत की गई कार्रवाई करार दिया है. साथ ही कहा है कि बीजेपी राजनीतिक फायदे के लिए सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल कर रही है.

बीएसपी की तरफ से मायावती के जारी बयान में कहा गया है कि यूपी में खनन के पुराने मामले में सीबीआई की छापेमारी और उसकी आड़ में सपा प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से पूछताछ करने की धमकी को पूरी तरह से राजनीतिक विद्वेष की भावना से चुनावी स्वार्थ की कार्रवाई है. मायावती ने कहा कि बीजेपी की इस प्रकार की घिनौनी राजनीति व चुनावी षड्यंत्र कोई नई बात नहीं है, बल्कि यह उनका पुराना हथकंडा है जिसे देश की जनता अच्छी तरह से समझती है और जिसका खामियाजा आने वाले लोकसभा आमचुनाव में भुगतने के लिए उसे तैयार रहना चाहिए.

बसपा प्रमुख ने कहा कि सपा-बसपा के शीर्ष नेतृत्व की मुलाकात की खबरें मीडिया में आने के बाद से ही बीजेपी और उसकी सरकार की बौखलाहट बढ़ गई है. इसी के चलते बीजेपी सरकार ने सीबीआई से लंबित पड़े खनन मामले में एक साथ कई जगहों पर छापेमारी करवाई गई और अब अखिलेश से भी पूछताछ करने संबंधी खबर जानबूझकर फैला रही है. उन्होंने कहा कि यह राजनीतिक विद्वेष व चुनावी षड्यंत्र के तहत सपा-बसपा गठबंधन को बदनाम व प्रताड़ित करने की कार्रवाई नहीं तो और क्या है?

मायावती ने कहा कि अगर यह कार्रवाई राजनीतिक षड्यंत्र नहीं है तो सीबीआई को पहले ही इस मामले में अपनी कार्रवाई करनी चाहिए थी और बीजेपी नेताओं को इस संबंध में अनर्गल बयानबाजी करने की क्या जरूरत थी? उन्होंने सवाल किया कि इस मामले में बीजेपी के मंत्री व नेतागण सीबीआई के प्रवक्ता क्यों बन गए हैं?

बीएसपी सूत्रों के मुताबिक, मायावती ने रविवार को ही फोन कर सपा प्रमुख से बात की और कहा कि बीजेपी सरकार के इस प्रकार के साम, दाम, दंड, भेद आदि हथकंडों से घबराने की कोई जरूरत नहीं है. उन्होंने अखिलेश से कहा कि जनता बीजेपी को सत्ता का घोर दुरुपयोग करने का करारा जवाब देगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help