एंटीलिया केस:सचिन वझे की कस्टडी 7 अप्रैल तक बढ़ी, कोर्ट ने NIA को इलाज की सुविधा मुहैया कराने के निर्देश दिए

मुंबई

NIA की टीम सचिन वझे को लेकर शनिवार दोपहर को स्पेशल कोर्ट पहुंची थी। इससे पहले वझे का मेडिकल चेकअप भी कराया गया था। - Dainik Bhaskar

NIA की टीम सचिन वझे को लेकर शनिवार दोपहर को स्पेशल कोर्ट पहुंची थी। इससे पहले वझे का मेडिकल चेकअप भी कराया गया था।

एंटीलिया केस में गिरफ्तार मुंबई पुलिस के सस्पेंड API सचिन वझे की कस्टडी 7 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। स्पेशल कोर्ट ने NIA को निर्देश दिए हैं कि वझे को हर तरह की मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए। वझे की हिरासत अवधि आज खत्म हो रही थी। इसके मद्देनजर NIA की टीम वझे को लेकर स्पेशल कोर्ट पहुंची। कोर्ट लाने से पहले NIA ने वझे की मेडिकल जांच भी कराई।

NIA की स्पेशल कोर्ट ने जांच एजेंसी को निर्देश दिया कि 7 अप्रैल को अगली पेशी के दौरान वह वझे के स्वास्थ्य और उनकी बीमारियों पर डीटेल्ड रिपोर्ट पेश करे। इससे पहले, सचिन वझे के वकील रौनक नाईक ने अदालत को एक एप्लीकेशन लिखी थी। इसमें उन्होंने कहा कि वझे को सीने में दर्द के साथ-साथ हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज हैं। ऐसी हालत में वझे को उनके कार्डियोलॉजिस्ट से मिलवाया जाए, ताकि उनका मेडिकल ट्रीटमेंट शुरू हो सके।

NIA ने कहा- वझे के जॉइंट अकाउंट वाले लॉकर में 26 लाख रुपए मिले
कोर्ट में ASG अनिल सिंह NIA का पक्ष रख रहे हैं। शनिवार को हुई सुनवाई में उन्होंने कहा कि मीठी नदी से काफी खराब हालत में मिली DVR और CPU की जांच की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सचिन वझे के पास से बरामद डायरी में भारी मात्रा ने पैसों के लेनदेन के कई सबूत मिले हैं। उनके पास से एक अज्ञात शख्स का पासपोर्ट भी मिला है।

सिंह ने कहा कि 2 अप्रैल को जब्त की गई एक मर्सिडीज कार की जांच अभी बाकी है। हमें विनायक शिंदे और वझे को आमने-सामने बैठकर पूछताछ करनी है। वझे का एक जॉइंट अकाउंट है और एक लॉकर की जानकारी भी मिली है। इसमें 26 लाख रुपए थे। इसकी भी जांच की जानी है। इसके जवाब में सचिन वझे के वकील आबाद पोंडा ने कहा कि नदी से बरामद सभी सबूत प्लांट किए गए हैं। सचिन वझे का वर्सोवा बैंक में कोई अकाउंट नहीं है।

सचिन वझे को भाई से 5 मिनट की मुलाकात की इजाजत
इधर, सचिन वझे के भाई सुधाराम ने NIA की स्पेशल कोर्ट में एप्लीकेशन लगाकर उनसे मुलाकात की इजाजत मांगी थी। सुधाराम ने सचिन को कपड़े देने के लिए कोर्ट रूम में ही 5 मिनट की मुलाकात का समय देने की गुजारिश की थी। अदालत ने इसे मान लिया। इसके बाद कोर्टरूम में ही सचिन और सुधाराम के बीच 5 मिनट की मुलाकात हुई।

मुंबई के एक होटल से वसूली रैकेट चला रहा था वझे
इधर, सचिन वझे को लेकर NIA ने एक नया खुलासा किया है। सूत्रों के मुताबिक, सचिन वझे मुंबई के नरीमन पॉइंट स्थित एक 5 स्टार होटल के एक कमरे से कथित तौर पर फिरौती का एक रैकेट चला रहा था। इस कमरे को जावेरी बाजार के एक बिजनेसमैन ने 100 दिनों के लिए बुक किया था, जिसके लिए 12 लाख का भुगतान किया जा चुका था।

100 दिनों के लिए बुक था कमरा नंबर 1964
NIA की जांच में सामने आया है कि सचिन वझे के लिए मुंबई के एक ट्रैवल एजेंट ने स्वर्ण कारोबारी के कहने पर 19वें फ्लोर पर कमरा नंबर 1964 बुक करवाया था। ID प्रूफ में होटल को उनका फेक आधार कार्ड दिया गया था, जिसमें वझे का नाम सुशांत सदाशिव खामकार दर्ज था। केंद्रीय जांच एजेंसी (NIA) को होटल से कई सबूत हाथ लगे हैं। इनमें CCTV फुटेज, बुकिंग रिकॉर्ड और स्टाफ का बयान शामिल है।

छिपने के लिए बुक करवाया था होटल का कमरा
NIA सूत्रों के मुताबिक, वझे को यह आशंका थी कि आने वाले समय में उसे छिपना पड़ सकता है। इसलिए उसने यह तैयारी पहले से कर ली थी। नरीमन पॉइंट स्थित होटल के एक कमरे में तलाशी टीम को ज्यादा कुछ नहीं मिला, लेकिन स्टाफ के बयान से यह स्पष्ट हुआ है कि वझे से मिलने के लिए कुछ लोग यहां जरूर आए थे। वझे यहां 16 से 20 फरवरी तक रुका था। NIA ने यहां से 35 कैमरों के फुटेज जब्त किए हैं।

क्लब के मालिक का बयान हुआ दर्ज
NIA ने शुक्रवार को मुंबई के एक क्लब ओनर का बयान रिकॉर्ड किया है। यह क्लब साउथ मुंबई में एक होटल में है। NIA को क्लब के मालिक और मनसुख हिरेन की हत्या मामले में गिरफ्तार क्रिकेट बुकी नरेश गोर और सस्पेंड कॉन्स्टेबल विनायक शिंदे के बीच संबंध की जानकारी मिली है। NIA ने उसे शुक्रवार सुबह 11 बजे पूछताछ के लिए बुलाया था और शाम 4.50 बजे घर जाने दिया।

वझे के पूर्व सहयोगियों से फिर हुई पूछताछ
शुक्रवार को NIA के अधिकारियों ने सचिन वझे के साथ काम कर चुके रियाजुद्दीन काजी और प्रकाश होवल से भी पूछताछ की है। इससे पहले भी कई बार NIA की टीम दोनों से पूछताछ कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help