धरती से आकाश तक गूंजेगा 100 करोड़ वैक्सीन डोज का जश्न, ऐसी है सरकार की तैयारी

देश में इन दिनों कोरोना वैक्सीनेशन काफी तेजी पर चल रहा है. सभी की निगाहें वैक्सीनेशन के नंबरों पर टिकी हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 96 करोड़ से ज्यादा खुराक लगाई जा चुकी हैं जिनमें 32 लाख से ज्यादा खुराक बुधवार को ही लगाई गईं. अनुमान लगाया जा रहा है कि इस स्पीड से भारत अगले सप्ताह तक 100 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन खुराक (Vaccine Dose) के आंकड़े को छू लेगा और यह एक और मील का पत्थर साबित होगा. 

सरकार ने की है जोरदार तैयारी

केंद्र सरकार ने इस मौके के लिए खास तैयारियां की हुई हैं. आपको बता दें कि जिस वक्त भारत में 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज (Corona Vaccine Dose) का आंकड़ा पूरा होगा उस समय एक साथ सभी रेलवे स्टेशनों, सभी एयरपोर्ट, फ्लाइट, बस अड्डे सभी सार्वजनिक जगहों पर एक साथ अनाउंसमेंट होगा. इसके अलावा देश के सभी समुद्र तटों और शिप पर इस खास माइलस्टोन (Milestone) का जश्न मानाया जाएगा.

30% लोगों को लग चुकीं हैं दोनों डोज

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एक आंकड़े में कहा गया कि सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 18-44 ऐज ग्रुप में तीसरे फेज का टीकाकरण शुरू होने के बाद से पहली खुराक के रूप में 38,99,42,616 खुराक लगाई गई हैं और इसी ऐज ग्रुप में दूसरी खुराक के रूप में 10,69,40,919 खुराक लगाई गई हैं. साथ ही एक आंकड़े से यह भी पता चलता है कि फिलहाल 30% योग्य पॉपुलेशन (Eligible Population) को दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं. 

बच्चों की वैक्सीनेशन में एहतियात बरतने की जरूरत

इसके अलावा बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर एक्सपर्ट ओपिनियन (Expert Opinion) लिया जा रहा है. एक्सपर्ट्स का मानना है कि बच्चों की वैक्सीन को लेकर अभी एहतियात बरतने की जरूरत है. 

देश में नहीं होगी वैक्सीन की कमी

साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने संतुष्टिकरण दिया कि अगले महीने तक देश में जरूरत से ज्यादा कोरोना टीका उपलब्ध होगा और अपने देश की जरूरत से जो वैक्सीन बचेगी वो अन्य देशों के लिए निर्यात (Export) कर दी जाएगी. आपको बता दें भारत ने अब तक नेपाल, बांग्लादेश, ईरान, म्यांमार जैसे देशों को 10 लाख कोरोना के टीके दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help