IND vs NZ: टेस्ट सीरीज से पहले इस कीवी खिलाड़ी ने दी टीम इंडिया को चुनौती, बताया अपना खास प्लान

IND vs NZ: न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-0 से टी20 सीरीज जीतने के बाद अब भारतीय टीम 25 नवंबर से टेस्ट सीरीज में इस टीम का सामना करने वाली है. इस सीरीज से पहले एक कीवी गेंदबाज ने टीम इंडिया को चुनौती दे दी है

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-0 से टी20 सीरीज जीतने के बाद अब भारतीय टीम 25 नवंबर से टेस्ट सीरीज में इस टीम का सामना करने वाली है. भारत लंबे समय के बाद घर में कोई टेस्ट सीरीज खेलेगा. ऐसे में स्पिनर्स का दबदबा इस पूरी सीरीज में रहने वाला है. ऐसे में न्यूजीलैंड के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं. हालांकि कीवी टीम के पास भी कुछ अच्छे स्पिनर्स हैं जो टीम इंडिया को चौंका सकते हैं. 

इस खिलाड़ी ने दी टीम इंडिया को चेतावनी 

न्यूजीलैंड के बाएं हाथ के स्पिनर मिशेल सैंटनर ने कहा कि टी20 सीरीज में हार के बाद वह और उनके साथी स्पिन गेंदबाज भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में स्पिनरों की मददगार पिचों का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. भारत ने टी20 विश्व कप में जल्दी बाहर होने के बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप किया. न्यूजीलैंड ने कप्तान केन विलियमसन सहित अपने कुछ खिलाड़ियों को इस सीरीज में विश्राम दिया था. भारत और न्यूजीलैंड के बीच 25 नवंबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की भी शुरुआत होगी. 

कीवी टीम के पास अच्छे गेंदबाज

सैंटनर ने तीसरे टी20 के बाद वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘उम्मीद है कि खिलाड़ी कानपुर में पहले टेस्ट मैच के लिए तैयार होंगे. यह फिर से एक और त्वरित बदलाव होगा. हमारे पास कुछ अच्छे स्पिनर हैं. हम जानते हैं कि स्पिन इस सीरीज में अहम भूमिका निभाएगी. यह परिस्थितियों का अधिक से अधिक फायदा उठाने से जुड़ा है. उन्होंने कहा, ‘हम जानते हैं कि इन परिस्थितियों में अश्विन, जडेजा और अक्षर पटेल कितने अच्छे गेंदबाज हैं. हमारे पास भी अयाज (पटेल) और (विलियम) सोमरविले जैसे गेंदबाज हैं जो स्पिनरों की मददगार पिच पर खेलने को लेकर उत्सुक हैं.

0-3 से हारी थी न्यूजीलैंड

सैंटनर भारत में मिलने वाली कड़ी चुनौती से अच्छी तरह वाकिफ हैं. उन्होंने 2016-17 की श्रृंखला को याद किया जब उन्हें 0-3 से हार का सामना करना पड़ा था. उन्होंने कहा, ‘यह मायने नहीं रखता कि आप भारत के खिलाफ किस फॉर्मेट में खेल रहे हैं. उन्हें हराना बहुत मुश्किल है. हमने 2016 में यह देखा है. सैंटनर ने यहां तीसरे टी20 में टीम की अगुवाई की जिसमें 185 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए उनकी पूरी टीम 111 रन पर आउट हो गई. 

उन्होंने कहा, ‘यह विश्व कप से त्वरित बदलाव था लेकिन हमें स्वयं पर गर्व है कि हमने भारत की बहुत अच्छी टीम के खिलाफ अच्छी क्रिकेट खेली. उन्होंने फिर से दिखाया कि भारत को उसकी धरती पर हराना बेहद मुश्किल है. हमने टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन किया ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help