इन विस्फोटक प्लेयर्स के करियर में रोड़ा बने केएल राहुल! कभी झटके में बदल देते थे मैच

केएल राहुल ने भारत के लिए कई मैच जिताऊ पारियां खेलीं हैं. उन्होंने अपनी जगह भारतीय टीम में स्थाई ओपनर के तौर पर पक्की कर ली है. ऐसे में कई दिग्गज खिलाड़ियों की वापसी टीम में मुश्किल हो गई है

नई दिल्ली: भारत ने दुनिया को कई बड़े खिलाड़ी दिए हैं. पंजाब किंग्स की तरफ से आईपीएल में खेलने वाले केएल राहुल ने पिछले कुछ समय में टीम इंडिया के लिए कई बड़ी पारियां खेली हैं और अकेले अपने दम पर भारत को कई मैच जिताए हैं. उन्होंने टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली है. उनकी ताबड़तोड़ खेलने के अंदाज से सभी अच्छी तरह से वाकिफ हैं. राहुल के टीम इंडिया में जगह पक्की करते ही  कई खिलाड़ी टीम में दोबारा वापसी नहीं कर पा रहे हैं. आइए जानते हैं, इन खिलाड़ियों के बारे में. 

1. शिखर धवन 

शिखर धवन का बल्ला काफी दिनों से शांत हैं, उनके बल्ले से रन नहीं निकल रहे हैं. धवन ने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2018 में खेला था. उसके बाद से वह टीम इंडिया की टेस्ट टीम से बाहर चल रहे हैं. उनकी गैरमौजूदगी में केएल राहुल ने शानदार पारियां खेलकर टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली हैं. टी20 क्रिकेट और वनडे क्रिकेट से वो पहले ही बाहर चल रहे हैं. धवन इंग्लैंड दौरे पर सेलेक्ट नहीं किए गए थे और न्यूजीलैंड दौरे पर भी उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया था. चयनकर्ताओं ने धवन को ज्यादा मौके नहीं दिए हैं. अब साउथ अफ्रीका टूर पर सेलेक्टर्स ने धवन की जगह केएल राहुल को तरजीह दी है. ऐसे में उनके करियर पर पावरब्रेक लगते दिखाई दे रहे हैं. 

2. मुरली विजय 

कभी मुरली विजय (Murali Vijay) टीम इंडिया की टेस्ट टीम के नंबर एक ओपनर थे, लेकिन खराब फॉर्म की वजह से इस स्टार ओपनर को टीम से बाहर होना पड़ा. पिछले 3 सालों से वह भारत की टेस्ट टीम से बाहर चल रहे हैं.  मुरली ने भारत के लिए 2008 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था. उन्होंने भारतीय टीम के 61 टेस्ट मैचों में 3982 रन बनाए हैं. अब टीम इंडिया में राहुल के जम जाने के कारण उनकी वापसी असंभव नजर आ रही है.

3. पृथ्वी शॉ 

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम में ओपनर की जिम्मेदारी बहुत ही शानदार तरीके से संभाली है. शॉ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 2018 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था, लेकिन ये बल्लेबाज पिछले एक साल से भारतीय टेस्ट टीम से बाहर चल रहा है. केएल राहुल के टेस्ट टीम में स्थाई जगह बनाने के कारण शॉ की वापसी बहत ही मुश्किल हो गई है. पृथ्वी अपनी खराब फॉर्म की वजह से टीम से अंदर-बाहर होते रहे हैं. राहुल के अलावा मयंक अग्रवाल और शुभमन गिल जैसे युवा बल्लेबाज ने धमाकेदार प्रदर्शन कर अपनी जगह टीम इंडिया में पक्की की है. शॉ ने भारत के लिए 5 टेस्ट मैचों में 339 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक शामिल है. 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help